फिर लापरवाह हुए हम, तीसरी लहर को न्यौता

खबरदार ब्यूरो

पिछले करीब दो महीने से कोरोना वायरस(Corona Virus) के मामले कम होते दिख रहे थे, लेकिन अब नए मामलों( New Cases) की संख्या रिकवर केसो( Recover cases) से ज्यादा होती नजर आ रही है. नए मामले रिकवर हो चुके मरीजों की संख्या से ज्यादा हैं. वहीं एक्टिव केस( Active Case) भी बढ़े हैं। इसकी एक सबसे बड़ी वजह है लोगों की लापरवाही और खासकर टूरिस्ट प्लेसेस पर अचानक से बढ़ी लोगों की भीड़ फिर से कोरोना वायरस को फैलने में मदद मिल रही है।

KHABARDAR Express...

आलम ये है कि पहाड़ी राज्यों के ज्यादातर टूरिस्ट पलेस पर्यटकों से फुल हो चुके हैं, कई टूरिस्टों को होटल में जगह ना मिलने की वजह से रात अपनी गाड़ी में ही गुजारनी पड़ रही है ऐसे में इन टूरिस्ट स्थलों के ज्यादातर बाजार और सड़कें पर्यटकों से अटी पड़ी हैं ऐसे में सबसे बड़ा सवाल कोरोना को लेकर है इसकी वजह है टूरिस्ट ना तो सोशल डिस्टेंसिग( Social Distancing) को फौलो कर रहे हैं और ना ही मॉस्क का इस्तेमाल कर रहे हैं इससे आने वाले समय में कोरोना को विकराल होते नहीं रोका जा सकता है सरकारी एजेंसियां बार बार लोगों को आगाह तो कर रही हैं कि एतियात के साथ रहे लेकिन लोग कोरोना गाइड़ लाइन ( Corona Guidlines) को मानते नजर नहीं आ रहे हैं ऐसे में सबसे बड़ा खतरा इन पर्यटक स्थलों पर रहने वाले लोगों की सियत को है, स्वास्थ्य मंत्रालय भी खुद लोगों के इस गैरजिमेंदाराना व्यवहार से खासा नाराज है, इसके अलावा खुद पीएम मोदी ने भी लोगों के इस आचरण की आलोचना की है और लोगों से कोरोना गाइड़ लाइन का पालन करने की अपील की है, देश के टूरिस्ट प्लेसों से जो पर्यटकों की तस्पीरें आ रही हैं उनसे साफ जाहिर हो रहा है कि हमने कोरोना की पहली और दूसरी लहर से कोई सबक नहीं लिया है शायद इसी लिए लोगो इस तरीके का गैर जिम्मेदारना व्यवहार कर रहे हैं, लॉक डाउन( Lock Down)  के समय तो लोग अपने घरों में दुबके पड़े थे लेकिन जैसे ही छूट मिलनी शुरु हुई हम फौरन शेर बन गए लेकिन हमें फिर याद रखना होगा कि ये कोरोना है जिसने अच्छे- अच्छे शेर और हाथियों को धूल चटा चुका है… कही हम अपने गैर जिम्मेंदाराना रवैये से देश के लोगों की सियत को खतरे में ना ड़ालें इसका खास खयाल रखना होगा हो सकता है हमारी एक लापरवाही पूरे देश पर बारी पड़ जाए और कोरोना की तीसरी लहर( Third Wave) आ धमके……

KHABARDAR Express...

ना कोरोना की चिंता, ना नियमों का डर

लगातार 40 हजार से अधिक नए केस दर्ज किए जा रहे हैं

55 दिनों के बाद नए मामलों की संख्या रिकवर रेट से ज्यादा

अमेरिका, ब्राजील, ब्रिटेन के बाद सबसे ज्यादा एक्टिव केस भारत में

लोगों की लापरवाही तीसरी लहर को न्योता दे रही है

पर्यटन स्थलों पर बढ़ रही लापरवाह लोगों की भीड़

 

उत्तराखंड के मसूरी का एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया( Social Media)  पर जमकर वायरल ( Viral Video) हो रहा है. जहां केम्पटी फाल्स( Mussoorie Camti Fall)  पर सैकड़ों की संख्या में टूरिस्ट नहा रहे हैं. यहां ना कोई सोशल डिस्टेंसिंग है, ना ही कोई मास्क है, बस हर कोई अपनी मस्ती में मस्त है।

KHABARDAR Express...

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, भारत ( India) में एक दिन में कोविड-19 के 45,892 नए मामले सामने आने के बाद देश में अब तक संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 3,07,09,557 हो गई. वहीं करीब  44,291 लोग एक दिन में रिकवर भी हुए हैं. 55 दिनों के बाद यह पहली बार है, जब कोरोना के नए मामलों की संख्या रिकवर होने वाले लोगों से ज्यादा है.

कोरोना वायरस की दूसरी लहर अभी पूरी तरह खत्म नहीं हुई है, तीसरी लहर आने का अंदेशा बना हुआ है. लेकिन इस सबसे इतर अब जब कई राज्यों में पाबंदियों में ढील दे दी गई है, तब लोगों की लापरवाही फिर शुरू हो गई है. देश के अलग-अलग हिस्सों से लोग पहाड़ों में घूमने जा रहे हैं, उत्तराखंड के मसूरी-नैनीताल( Uttrakhand Nainital Mussoorie) में टूरिस्टों की भीड़ लगी हुई है।

KHABARDAR Express...

उत्तराखंड के मसूरी का एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है.  जहां केम्पटी फाल्स पर सैकड़ों की संख्या में टूरिस्ट नहा रहे हैं. यहां ना कोई सोशल डिस्टेंसिंग है, ना ही कोई मास्क है, बस हर कोई अपनी मस्ती में मस्त है. वीडियो देखकर ऐसा लग रहा है शायद ये कोरोना काल के पहले का वीडियो है.

KHABARDAR Express...

ट्विटर पर ये वीडियो तेज़ी से वायरल हो रहा है, जहां लोग इस वीडियो की निंदा कर रहे हैं. एक तरफ अभी भी कोरोना का खतरा बरकरार है, लगातार 40 हज़ार से अधिक संख्या में नए केस दर्ज किए जा रहे हैं. ऐसे में लोगों की ये लापरवाही कहीं तीसरी लहर को न्योता ना दे दे. ये सिर्फ यहां का ही हाल नहीं है बल्कि मसूरीमें कुल्डी बाज़ार, मॉल रोड में भी हजारों की संख्या में पर्यटक उमड़ रहे हैं. उत्तराखंड में नैनीताल, ऋषिकेश, हरिद्वार( Rishikesh Haridwar) में लोगों का जमावड़ा लगा हुआ है. दूसरी ओर हिमाचल प्रदेश में शिमला, मनाली और कसौली( himanchal- Shimla, Manali, Kasauli) जाने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है. राज्य सरकारों द्वारा लॉकडाउन की पाबंदियां हटाते ही इन डेस्टिनेशंस पर टूरिस्ट की भीड़ इकट्ठा होने लगी है. सड़कों पर जाम और पार्किंग की दिक्कतों से भी दो-चार होना पड़ रहा है।

KHABARDAR Express...

शिमला, मनाली और धर्मशाला( Dharamshala Himanchal Hotel, Tourist ) जैसे ज्यादातर बड़े टूरिस्ट स्पॉट पर होटल पूरी तरह से भर चुके हैं. कई टूरिस्ट को तो होटेल रूम न मिलने की वजह से मजबूरन गाड़ियो में ही रात बितानी पड़ रही है.

बीते दिनों केंद्र सरकार ने भी पर्यटकों ( Tourist)  की लापरवाही पर सवाल खड़े किए थे और लोगों को चेतावनी दी थी कि अगर यही लापरवाही जारी रही तो सरकार फिर से पाबंदी लगाने में कोई देरी नहीं करेगी.

_____________________________________________________

 

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *