इस देश में तैयार हो गया है दुनिया का सबसे बड़ा सिटिंग स्टैच्यू,( World Largest sitting statue is ready to display) बनाने में खर्च हुए 100 करोड़ 1600 पार्ट्स में आया चीन से, ( Cost around 100 crore 1600 parts came from china), 9 महीने तो  इसको जोड़ने में ही लगे थे ( it takes 9 month only to assemble it)

खबरदार ब्यूरो

2 Januery,2022

इस देश में तैयार हो गया है दुनिया का सबसे बड़ा सिटिंग स्टैच्यू,( World Largest sitting statue is ready to display) बनाने में खर्च हुए 100 करोड़ 1600 पार्ट्स में आया चीन से, ( Cost around 100 crore 1600 parts came from china), 9 महीने तो  इसको जोड़ने में ही लगे थे ( it takes 9 month only to assemble it)

KHABARDAR Express...KHABARDAR Express...

पूरी में दुनिया में सबसे बड़ा सिटिंग स्टैच्यू करीब 302 फीट हाइट का ग्रेट बुद्धा का है, जो थाइलैंड में है। और दूसरे नंबर पर अब भारत में 216 फीट ऊंचा स्वामी रामानुजाचार्य का स्टैच्यू हैदराबाद में स्थापित हो चुका है। हालांकि राजस्थान के नाथद्वारा में 351 फीट ऊंची शिव मूर्ति भी तैयार हो चुकी है, लेकिन इसका इनॉगरेशन मार्च में है, इसके पहले फरवरी में रामानुजाचार्य के स्टैच्यू का इनॉगरेशन पीएम मोदी करने जा रहे हैं।

KHABARDAR Express...

इस देश में तैयार हो गया है दुनिया का सबसे बड़ा सिटिंग स्टैच्यू,( World Largest sitting statue is ready to display) बनाने में खर्च हुए 100 करोड़ 1600 पार्ट्स में आया चीन से, ( Cost around 100 crore 1600 parts came from china), 9 महीने तो  इसको जोड़ने में ही लगे थे ( it takes 9 month only to assemble it)

इस स्टैच्यू के साथ 108 मंदिर भी बनाए गए हैं, जिन पर कारीगरी ऐसी है कि कुछ मिनट को पलकें ठहर सी जाती हैं। साथ ही 120 किलो सोने का इस्तेमाल करते हुए आचार्य की एक छोटी मूर्ति भी तैयार की गई है। इस जगह को स्टैच्यू ऑफ इक्वालिटी नाम दिया गया है। वैष्णव संप्रदाय के संत चिन्ना जीयर स्वामी की देखरेख में पूरे हुए इस प्रोजेक्ट पर अब तक 1400 करोड़ रुपए खर्च हो चुके हैं। नए साल से यह दर्शकों के लिए खुलने जा रहा है। खबरदार की हैदराबाद टीम में खुद मौके पर जाकर इस स्टैच्यू के बारे में जानकारी हासिल की है वो आपको भी साझा की जा रही है

KHABARDAR Express...

 

इस देश में तैयार हो गया है दुनिया का सबसे बड़ा सिटिंग स्टैच्यू,( World Largest sitting statue is ready to display) बनाने में खर्च हुए 100 करोड़ 1600 पार्ट्स में आया चीन से, ( Cost around 100 crore 1600 parts came from china), 9 महीने तो  इसको जोड़ने में ही लगे थे ( it takes 9 month only to assemble it)

दरअसल इस प्रोजेक्ट की पूरी कहानी इसे बनवाने वाले वैष्णव संप्रदाय के संत चिन्ना जीयर स्वामी, श्री रामानुजा सहस्रब्दी प्रोजेक्ट के चीफ आर्किटेक्ट प्रसाद स्थपति और इसकी डिजाइन तैयार करने वाले दक्षिण के प्रसिद्ध आर्ट डायरेक्टर आनंद साईं की जुबानी…।

KHABARDAR Express...

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *