“खबरदार” की खबर का हुआ बड़ा असर( Khbabardar news Impact) कई सालों बाद मृत्युंजय मिश्रा की होगी घर वापसी ( After decade Mirtyunjay Mishra will send his home cadre by uttrakhand Gov.)

KHABARDAR Express...

खबरदार ब्यूरो

30, December, 2021

 

“खबरदार” की खबर का हुआ बड़ा असर( Khbabardar news Impact) कई सालों

बाद मृत्युंजय मिश्रा की होगी घर वापसी ( After decade Mirtyunjay Mishra will send his home cadre by uttrakhand Gov.)

आपके न्यूज पोर्टल “खबरदार” की खबर का बड़ा असर देखने को मिला है दरअसल “खबरदार” ने एक खबर पब्लिश की थी जिसमें आयुर्वेदिक कॉलेज में मृत्युंजय मिश्रा की तैनाती पर सवाल खड़े किए गए थे अब सरकार ने अपनी गलती को मान लिया है और मिश्रा को उनके मूल विभाग यानि शिक्षा विभाग में वापस भेजा जा रहा है जल्दी ही इसका शासनादेश भी होने वाला है गौरतलब है कि मृत्युंजय मिश्रा अपनी शिक्षा विभाग में तैनाती के बाद से कभी भी मूल विभाग में रहे ही नहीं अलबता वो अपनी ऊंची पहुंच के बूते अपने पद से भी ज्यादा ऊंचे पदों पर खुद को तैनात करवाते रहे हैं लेकिन अब चारों तरफ से सरकार की किरकिरी के बाद मिश्रा को उनके मूल कैडर में भेजा जा रहा है

KHABARDAR Express...KHABARDAR Express...

उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के कुलसचिव पद पर बहाल किए गए डा मृत्युंजय कुमार मिश्रा को मूल विभाग उच्च शिक्षा में वापस भेजा जाएगा। इस संबंध में मंत्रिमंडल के फैसले को आयुष शिक्षा विभाग जल्द अमल में लाएगा।सरकार ने बीते रोज मृत्युंजय कुमार मिश्रा का निलंबन समाप्त कर आयुर्वेद विश्वविद्यालय के कुलसचिव पद पर बहाल करने के आदेश दिए थे। डा मिश्रा को निलंबन अवधि का वेतन भुगतान नियमानुसार करने के आदेश भी दिए गए। हालांकि सतर्कता जांच पूरी किए बगैर मृत्युंजय कुमार मिश्रा की बहाली पर सवाल भी उठ रहे हैं।

“खबरदार” की खबर का हुआ बड़ा असर( Khbabardar news Impact) कई सालों

बाद मृत्युंजय मिश्रा की होगी घर वापसी ( After decade Mirtyunjay Mishra will send his home cadre by uttrakhand Gov.)

आयुष शिक्षा सचिव चंद्रेश कुमार ने बताया कि हाईकोर्ट के आदेश का अनुपालन करते हुए विभाग ने कार्यवाही की है। इसके बाद ही उनका निलंबन खत्म कर बहाल किया गया।उन्होंने बताया कि विभाग अब मंत्रिमंडल के निर्णय का क्रियान्वयन करेगा। मंत्रिमंडल ने मृत्युंजय को उनके मूल विभाग उच्च शिक्षा में भेजने का निर्णय किया है। मूल विभाग में वापस भेजने से पहले उनकी बहाली होना आवश्यक थी। शासन की ओर से उन्हें मूल विभाग में भेजने की कार्यवाही प्रारंभ की जा रही है। सूत्रों के मुताबिक मृत्युंजय कुमार मिश्रा की कुलसचिव पद पर बहाली के मामले का मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भी संज्ञान लिया है। उन्होंने इस संबंध में आयुष व आयुष शिक्षा मंत्री डा हरक सिंह रावत से भी वार्ता की है। मुख्यमंत्री के इस रुख अपनाने को लेकर इंटरनेट मीडिया पर चर्चाएं जोरों पर रहीं।

 

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *