कांग्रेस में उत्तराखण्ड( Congress Uttrakhand) में मचे बवाल  पर  उत्तराखंड के सभी बरिष्ठ नेता किये गए दिल्ली दरवार में तलब( Senior leaders called delhi), हरदा का बढ़ेगा बढ़ेगा कद ! ( Harish Rawat becomes more powerful)  

Khabardaar Bureau

24 december, 2021

 

कांग्रेस में उत्तराखण्ड( Congress Uttrakhand) में मचे बवाल  पर  उत्तराखंड के सभी बरिष्ठ नेता किये गए दिल्ली दरवार में तलब( Senior leaders called delhi), हरदा का बढ़ेगा बढ़ेगा कद ! ( Harish Rawat becomes more powerful)  

उत्तराखंड में चुनावी दस्तक  से ठीक पहले हरीश रावत के टृवीट से मचे सियासी तूफान को थामने के लिए कांग्रेस हाईकमान ने मोर्चा संभल लिया है। पार्टी हाईकमान ने उत्तराखंड  कांग्रेस की अंदरूनी खींचतान का समाधान निकालने और चुनावों की जिम्मेदारी हरीश रावत के कंधों पर ही रखे रहने का संकेत देते हुए सूबे के नेताओं को आपात बैठक के लिए दिल्ली  तालाब कर लिया है।रावत के साथ प्रदेश कांग्रेस के करीब आधा दर्जन वरिष्ठ नेताओं को  प्रदेश कांग्रेस में मचे घमासान का अंत कर सुलह का रास्ता निकालने के लिए दिल्ली बुलाया गया है और पार्टी के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी से इनकी मुलाकात और बातचीत की संभावना है। सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि केसी वेणुगोपाल ने इस मसले पर  हरीश रावत से फोन पर चर्चा की

KHABARDAR Express...

पार्टी सूत्रों ने पुष्टि की  है कि रावत के टवीट से उत्तराखंड कांग्रेस में मची खलबली ज्यादा गंभीर न बन जाए इसे देखते हुए हाईकमान की ओर से गुरूवार सुबह ही हरीश रावत समेत प्रमुख नेताओं को बातचीत के लिए दिल्ली आने का संदेश भेज दिया गया।कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने हरीश रावत से फोन पर चर्चा की और इस दौरान संगठन को लेकर उनकी प्रमुख शिकायतों का ब्यौरा लिया। बताया जाता है कि बातचीत के दौरान वेणुगोपाल की ओर से रावत को यही संदेश देने की कोशिश की गई कि कांग्रेस नेतृत्व ने पूरी रणनीति के तहत उनको उत्तराखंड चुनाव का जिम्मा सौंपा है और सबको मालूम है कि वे ही पार्टी का चुनावी चेहरा हैं।

कांग्रेस में उत्तराखण्ड( Congress Uttrakhand) में मचे बवाल  पर  उत्तराखंड के सभी बरिष्ठ नेता किये गए दिल्ली दरवार में तलब( Senior leaders called delhi), हरदा का बढ़ेगा बढ़ेगा कद ! ( Harish Rawat becomes more powerful)  

हाईकमान ने रावत की शिकायतों को दूर करने के दिए संकेत

ऐसे में मुख्यमंत्री के चेहरे की घोषणा इतना बड़ा मुद्दा नहीं है। माना जा रहा  है कि वेणुगोपाल ने रावत को यह संदेश भी दिया कि हाईकमान इसमें कोई कसर नहीं छोड़ेगा कि उत्तराखंड कांग्रेस एकजुट होकर मजबूती से न केवल चुनाव लड़े बल्कि सूबे में सरकार भी बनाए। इसका संकेत साफ है कि पार्टी नेतृत्व हरीश रावत के हाथ बांधने की शिकायतों को दूर करने के लिए संगठन के साथ साथ टिकट बंटवारे में भी उन्हें पूरी अहमियत देने को तैयार है।
कांग्रेस हाईकमान ने रावत के अलावा जिन नेताओं को दिल्ली बुलाया है उसमें उनके विरोधी नेता विपक्ष प्रीतम के अलावा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल, यशपाल आर्य, किशोर उपाध्याय को उत्तराखंड में पार्टी में मचे घमासान को शांत करने के लिए दिल्ली दरवार में तालाब किया गया  हैं। उत्तराखंड के इन नेताओं की शुक्रवार को वेणुगोपाल के साथ पहले बैठक होगी और उसके बाद राहुल गांधी से चर्चा कर रावत के उठाए मुदों का समाधान निकाला जाएगा।
 

KHABARDAR Express...

कांग्रेस में उत्तराखण्ड( Congress Uttrakhand) में मचे बवाल  पर  उत्तराखंड के सभी बरिष्ठ नेता किये गए दिल्ली दरवार में तलब( Senior leaders called delhi), हरदा का बढ़ेगा बढ़ेगा कद ! ( Harish Rawat becomes more powerful) 

हरीश रावत को उत्तराखंड में खांटी के नेता कहा जाता है वो जो सोचते हैं और चल चलते हैं विरोधियों को उनके दावं लम्बे बक्त के बाद पता चलपते हैं तब तक हरदा अपना काम कर जाते हैं इस बार भी हरदा कुछ इसी अंदाज ेमिन नजर आ रहे है उनका पूर्व सीएम त्रिवेंद्र को जन्म दिन की बधाई देना और फिर कल यूकेडी नेताओं के साथ मुलाक़ात तो कुछ यही इशारा कर रही है दरअसल हरदा देवेंद्र यादव को हरहाल में बैक तो पवेलियन भेजना चाहते हैं इसीलिए वो कभी इस विरोधी से मुलाकात कर रहे हैं कभी किसी दूसरे के साथ आलाकमान को सन्देश साफ़ है की अगर मेरी नहीं सुनी तो मई कुछ भी कर सकता हूँ वैसे भी अब तक के सभी सर्वे में सीएम कस लिए हरदा ही जनता की पहली पसंद बने हुए हैं अब कांग्रेस आलाकमान को फैसला करना है की उसको हरदा पसंद है या देवेंद्र यादव 

सोशल मीडिआ में दिए बयान  पर मचा बवाल के बाद  पार्टी के प्रदेश के सभी बरिष्ठ नेताओं को  दिल्ली तलब करना भी हरीश रावत की ही जीत के तौर पर देखा जा रहा है माना जा रहा है की पार्टी आलाकमान चुनाव के बक्त हरीश रावत की नाराजगी मोल लेने के मूड में कटी नहीं है इसीलिए सभी बरिष्ठ नेताओं को दिल्ली तालाब किया गया है और ये भी तय मन जा रहा है की इस मीटिंग के बाद हरीश रावत का पार्टी में कद और बढ़ सकता है 

 
                                              

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *