Harish Rawat सोशल मीडिआ( Social Media) में दिए बयां( Statement) पर मचा बवाल, सभी बरिष्ठ  नेता दिल्ली तलब( All congress senior leaders from uttrakhand) 

सोशल मीडिआ में दिए बयां पर मचा बवाल, सभी बरिष्ठ  नेता दिल्ली तलब 

  मनीष तिवारी ने हरीश रावत साधा निशाना

KHABARDAR Express...

 

Harish Rawat सोशल मीडिआ( Social Media) में दिए बयां( Statement) पर मचा बवाल, सभी बरिष्ठ  नेता दिल्ली तलब( All congress senior leaders from uttrakhand)

हरीश रावत को उत्तराखंड में खांटी के नेता कहा जाता है वो जो सोचते हैं और चल चलते हैं विरोधियों को उनके दावं लम्बे बक्त के बाद पता चल paata है,  तब तक हरदा अपना काम कर जाते हैं इस बार भी हरदा कुछ इसी अंदाज  mein नजर आ रहे है उनका पूर्व सीएम त्रिवेंद्र को जन्म दिन की बधाई देना और फिर कल यूकेडी नेताओं के साथ मुलाक़ात तो कुछ यही इशारा कर रही है दरअसल हरदा देवेंद्र यादव को हरहाल में बैक तो पवेलियन भेजना चाहते हैं इसीलिए वो कभी इस विरोधी से मुलाकात कर रहे हैं कभी किसी दूसरे के साथ आलाकमान को सन्देश साफ़ है की अगर मेरी नहीं सुनी तो मई कुछ भी कर सकता हूँ वैसे भी अब तक के सभी सर्वे में सीएम कस लिए हरदा ही जनता की पहली पसंद बने हुए हैं अब कांग्रेस आलाकमान को फैसला करना है की उसको हरदा पसंद है या देवेंद्र यादव 

कांग्रेस चुनाव संचालन समिति के अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के ट्वीट से मचे घमासान के बाद उत्तराखंड कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य ने बयान देते हुए कहा की हरीश रावत कांग्रेस के सबसे बड़े नेताओं में से एक हैं। 2022 विधानसभा चुनाव में हरीश रावत की अहम भूमिका दी है, यशपाल आर्य ने कहा कि विधानसभा चुनाव को लेकर हरीश रावत के मन में कुछ सवाल हैं और उसी बात को लेकर उन्होंने ट्वीट किया है, कांग्रेस पार्टी पूरी तरीके से एकजुट है।

सभी मिलकर चुनाव लड़ेंगे और 2022 में प्रदेश से भाजपा का सूपड़ा साफ होगा, यशपाल आर्य ने कहा कि हरीश रावत के सवालों को लेकर आलाकमान ने पार्टी के सभी वरिष्ठ नेताओं के साथ ही उनको भी दिल्ली बुलाया है। जहां कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव संगठन केसी वेणुगोपाल के साथ बैठक होगी और राहुल गांधी जी से भी उत्तराखंड विधानसभा चुनाव को लेकर चर्चा की जाएगी।

Harish Rawat सोशल मीडिआ( Social Media) में दिए बयां( Statement) पर मचा बवाल, सभी बरिष्ठ  नेता दिल्ली तलब( All congress senior leaders from uttrakhand)

बता दें कि तिवारी पहले भी पंजाब कांग्रेस प्रधान नवजोत सिद्धू से लेकर कांग्रेस हाईकमान के नए नेताओं पर निशाने साधते रहे हैं।

वहीं पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कल ट्विटर पर लिखा था कि है न अजीब सी बात, चुनाव रूपी समुद्र को तैरना है, सहयोग के लिए संगठन का ढांचा अधिकांश स्थानों पर सहयोग का हाथ आगे बढ़ाने के बजाय या तो मुंह फेर करके खड़ा हो जा रहा है या नकारात्मक भूमिका निभा रहा है। जिस समुद्र में तैरना है, सत्ता ने वहां कई मगरमच्छ छोड़ रखे हैं। जिनके आदेश पर तैरना है, उनके नुमाइंदे मेरे हाथ-पांव बांध रहे हैं। मन में बहुत बार विचार आ रहा है कि हरीश रावत अब बहुत हो गया, बहुत तैर लिये, अब विश्राम का समय है।वहीं हरीश रावत ने सोशल मीडिया के माध्यम से बदलावों के संकेत दिए थे।

 उन्होंने ट्विटर पर लिखा था कि- नया वर्ष शायद रास्ता दिखा दे। मुझे विश्वास है कि भगवान केदारनाथ जी इस स्थिति में मेरा मार्गदर्शन करेंगे। इसके बाद से कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने निशाना साधा है। कांग्रेस के असंतुष्ट धड़े जी-23 के अहम सदस्य मनीष तिवारी ने प्रतिक्रिया दी और अपनी ही पार्टी पर तंज कसा। मनीष तिवारी ने ट्वीट किया, “पहले असम, फिर पंजाब, अब उत्तराखंड…भोग पूरा ही पाउण गे, कसर न रह जावे कोई।

 

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *