Tweeter नए CEO पराग अग्रवाल पर दक्षिण पंथी और विदेश ( Foregiener People) के लोग क्यों साध रहे हैं  निशाना( Target on Prag Agarwal) …. वजह जान कर हैरान रह जाओगे आप!



खबरदार ब्यूरो

 Tweeter नए CEO पराग अग्रवाल पर दक्षिण पंथी और विदेश ( Foreigner People) के लोग क्यों साध रहे हैं

निशाना( Targeted Prag Agarwal) …. वजह जान कर हैरान रह जाओगे आप !

KHABARDAR Express...

पराग अग्रवाल को ट्विटर का नया सीईओ बनाए जाने की घोषणा के साथ ही उनको लेकर ट्विटर ही नहीं हर मीडिया में और हर जगह उनके नाम की चर्चा होने लगी है, और इस चर्चा पर खास ध्यान देने की भी जरुरत है क्योंकि जो चर्चा हो रही है वो इस बात को लेकर हो रही है कि वो भारतीय मूल के हैं, आईआईटी बॉम्बे से पढ़े हैं, यानि पश्चिम के कुछ लोग और बुद्धिजीवी भारतीय मूल के किसी भी शक्स को अपने यहां सफल होना नहीं देखना चाहते हैं और यहीं से पराग अग्रवाल को लेकर चर्चा की शुरुवात भी होती है, खुद पूर्व सीइओ जैक डोर्सी ने भी अपने इस्तीफे में इस बात का जिग्र किया था कि पराग अपने स्किल, दिल और आत्मा से काम करते हैं यानि डोर्सी का साफ कहना था कि जो चीजे पराग के भीतर हैं कहीं ना कहीं उनमें से कुछ चीजों का उनके भीतर अभाव है, इसके बाद ही पराग अग्रवाल दक्षिण पंथियों के निशाने पर हैं कोई उनका 10 साल पुराना ट्वीट शेयर कर रहा है तो कोई उनकी काबिलियत पर शक कर रहा है बहराल ये तो सच है कि किसी भारतीय के विदेशी कम्पनी का सीईओ बनने पर विदेश के लोग मायूस जरुर होते हैं और वो इस बार भी देखने को मिल रहा है लेकिन अच्छी बात ये है कि सभी भारतीय पराग को दिल से मुबारकबाद दे रहे हैं और उनसे कुछ अच्छा करने की उम्मीद कर रहे है जिससे दिनियाभर में हिन्दुस्तान का डंका और बजे….

लेकिन ट्विटर पर उन्हें लेकर एक अलग चर्चा भी छिड़ गई. सोमवार को जैक डोर्सी के ट्विटर सीईओ का पद छोड़ने के बाद जैसे ही पराग अग्रवाल के नाम की घोषणा हुई, कुछ लोगों ने उनका एक पुराना ट्वीट ढूँढ निकाला.

ट्रोलर्स ने उनके एक दशक पुराने ट्वीट को खोज निकाला जिसमें पराग अग्रवाल ने मुसलमान, चरमपंथी, गोरों और नस्लभेद की बात की थी.

KHABARDAR Express...

 

Tweeter नए CEO पराग अग्रवाल पर दक्षिण पंथी और विदेश ( Foregiener People) के लोग क्यों साध रहे हैं  निशाना( Target on Prag Agarwal) …. वजह जान कर हैरान रह जाओगे आप !

पराग अग्रवाल के ट्वीट का एक दशक बाद अलग-अलग मतलब निकाला जा रहा है लेकिन इस ट्वीट को लेकर उन्होंने तभी सफ़ाई जारी कर दी थी. पराग ने कहा है कि वो ट्वीट 10 साल पुराना है जब एक कॉमेडी शो के दौरान मशहूर कॉमेडियन आशिफ माडवी ने ये बात कही थी कि  “अगर वो मुस्लमान और चरमपंथियों के बीच अंतर नहीं करने वाले तो उनको गोरों और नश्लवादियों में अंतर क्यों करना चाहिए” इस शो में  कई और कॉमेडियन भी एक साथ थे और उन्होंने उसी ट्वीट को रिट्वीट किया था  ना कि वो ट्वीट उनका खुद का था

 Tweeter नए CEO पराग अग्रवाल पर दक्षिण पंथी और विदेश ( Foregiener People) के लोग क्यों साध रहे हैं  निशाना( Target on Prag Agarwal) …. वजह जान कर हैरान रह जाओगे आप !

दरअसल दक्षिण पंथी ट्वीटर पर खुद को सेंसर किए जाने से खफा चल रहे हैं और इस पुराने ट्वीट के बहाने उनको ट्वीटर पर भड़ास निकाने का मौका हासिल लग गया है ,अमेरिका में टैनिसी की सेनेटर और रिपब्लिकन पार्टी की नेता मार्स ब्लैकबर्न ने ट्वीट किया है कि ट्वीटर के नए सीईओ धर्म को पिरामिड़ स्कीम बता रहे हैं, ये वो हैं जो अब आप की बात को ऑनलाइन नियंत्रित करेंगे इसके अलावा भी कई नामी गिरामी लोग भी पराग के 10 साल पुराने ट्वीट पर अपने कमेंट दे रहे हैं अमेरिका के पत्रकार क्ले ट्रविस ने भी ट्वीट किया कि ये हैं सीईओ और जैक डोर्सी के जाने के बाद यहां चीजें और खराब होने वाली हैं

KHABARDAR Express... KHABARDAR Express...

लेकिन इन सब की बीच सुकून पहुंचाने वाली बात ये है कि सभी भारतीय पराग अग्रवाल को ट्वीटर के नएं सीईओ बनने पर दिल खोलकर मुबारकबाद दे रहे हैं और उनसे कुछ बेहतरी की उम्मीद पाल रहे हैं

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *