पूर्व सैनिकों ( Ex Servicemen) को अपने पाले में लाने को मिशन-2022 में जुटी ‘भाजपा’ ( Uttrakahnd BJP Retired  Army Jawans) में गणेश जोशी 9 minister Ganesh Joshi)  जरूरी तो ‘आप’ में कर्नल अजय कोठियाल ( AAP Party  Col. Ajay Kothiyal)  होगा फौजी चेहरा

खबरदार ब्य़ूरो

Monday, November 29, 2021

पूर्व सैनिकों ( Ex Servicemen) को अपने पाले में लाने को मिशन-2022 में जुटी ‘भाजपा’ ( Uttrakahnd BJP Retired  Army Jawans) में गणेश जोशी 9 minister Ganesh Joshi)  जरूरी तो ‘आप’ में कर्नल अजय कोठियाल ( AAP Party  Col. Ajay Kothiyal)  होगा फौजी चेहरा

KHABARDAR Express...

त्तराखंड के सत्ता संग्राम में पूर्व सैनिकों को लुभाने के लिए भाजपा और आम आदमी पार्टी ने अपने अपने जनरल तय कर दिए हैं। भाजपा ने सैनिक ल्याण मंत्री गणेश जोशी को अपना  मुख्य सैनिक चेहरा बनाया है । जबकि आम आदमी पार्टी ने कर्नल अजय कोठियाल  (रि) को पहले से ही अपना सीएम पद का प्रत्यासी घोषित किया हुआ हैलेकिन इन सबके बीच  कांग्रेस इस समय सैनिक चेहरे को लेकर सबसे ज्यादा उलझन में है। दरअसल इस  बार कांग्रेस के पास न तो कोई बड़ा पूर्व सैनिक अफसर  है और न ही जो सैनिक चेहरे हैं  वो सक्रिय नजर नहीं आ रहे हैं प्रदेश  के ढाई लाख से ज्यादा कार्यकर्ता, शहीद और पूर्व सैनिकों के परिवारों  की अहमियत को भांपते हुए  आने वाले विधान सभा चुनाव के लिहाज से  सभी राजनीतिक  दल उनको लुभाने के लिए  हर मुमकिन  कोशिश  कर रहे हैं।

 

कांग्रेस में  नहीं  है कोई बड़ा पूर्व सैन्य अफसर 

पूर्व सैनिकों ( Ex Servicemen) को अपने पाले में लाने को मिशन-2022 में जुटी ‘भाजपा’ ( Uttrakahnd BJP Retired  Army Jawans) में गणेश जोशी 9 minister Ganesh Joshi)  जरूरी तो ‘आप’ में कर्नल अजय कोठियाल ( AAP Party  Col. Ajay Kothiyal)  होगा फौजी चेहरा

पूर्व सैन्य अफसरों के लिहाज से इस वक्त कांग्रेस संकट में है। इस वक्त कांग्रेस के साथ तो कोई बड़ा सैन्य अफसर सक्रियता से जुड़ा है और जो हैं वो भी ज्यादा सक्रिय नहीं हैं। कांग्रेस के पास पूर्व सैन्य अधिकारी के रूप में  फिलहाल लेफ्टिनेंट जनरल (रि) एमसी बधानी ही एक बड़ा चेहरा हैं। लेकिन वो भी कांग्रेस से रूठे हुए हैं। बधानी ने साफ कर दिया है कि जब तक उन्हें एसआईसीसी से विधिवत सदस्यता नहीं मिलती वो कांग्रेस के लिए सक्रिय भूमिका नहीं निभा पाएंगे। कोरोना काल में एमसी बधानी कांग्रेस से जुड़े थे। कुछ दिन पहले कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित सैनिक सम्मान समारोह में आए इन पूर्व सैन्य अफसरों ने कांग्रेस की नीतियों पर सवाल उठाकर कांग्रेस नेताओं को ही असहज कर दिया था। 

KHABARDAR Express...

आप: कोठियाल की सैनिकों के बीच पकड़

आम आदमी पार्टी की भी पूर्व सैनिक वोटरों पर शुरू से नजर रही है। पूर्व सैनिको वोटर की अहमियत को देखते हुए आप ने अपना सीएम प्रत्याशी ही पूर्व सैन्य अधिकारी कर्नल अजय कोठियाल (रि) को बनाया है। कोठियाल की भी सैनिकों और पूर्व सैनिकों के बीच पैंठ है। केदारनाथ पुनर्निर्माण कार्य के दौरान कोठियाल ने खुद को साबित भी किया था। इसके साथ ही निम और राज्य के युवाओं को सैना में भर्ती के लिए प्रशिक्षण के लिए कोठियाल को जाना जाता है।

कांग्रेस को खल रही है सैनिकों की कमी

पूर्व सैनिकों ( Ex Servicemen) को अपने पाले में लाने को मिशन-2022 में जुटी ‘भाजपा’ ( Uttrakahnd BJP Retired  Army Jawans) में गणेश जोशी 9 minister Ganesh Joshi)  जरूरी तो ‘आप’ में कर्नल अजय कोठियाल ( AAP Party  Col. Ajay Kothiyal)  होगा फौजी चेहरा

पूर्व में कांग्रेस की हरीश रावत सरकार में मीडिया सलाहकार रहे सुरेन्द्र अग्रवाल का कहना है कि कांग्रेस  सैनिकों को परिवार की तरह मानती है, जबकि भाजपा उनका राजनीतिक  चेहरों के रूप में इस्तेमाल करती है। सैन्य पृष्ठभूमि के लीडर की कांग्रेस में कमी नहीं है। और वे सभी शांतिपूर्ण और अनुशासित रूप से  पार्टी द्वारा दिए गए अपने दायित्वों का निर्वहन कर रहे हैं।  वक्त आने पर कांग्रेस सैनिक चेहरा भी देगी और पूर्व सैनिक परिवारों के लिए काम भी करके भी दिखाएगी

KHABARDAR Express...

भाजपा में काबीना मंत्री गणेश जोशी का है अच्छा दखल

भाजपा में इस समय पूर्व सैनिकों को लुभाने की जिम्मेंदारी सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी पर है।

शहीद सम्मान यात्रा, सैन्य धाम निर्माण के लिए शहीदों के घरों से मिट्टी लाने की मुहिम के जरिए जोशी पूर्व

सैनिक परिवारों के बीच अपना दखल बना चुके हैं। जहां बाकी मंत्री चुनाव करीब देख अपने अपने

विधानसभा क्षेत्रों में सक्रिय हो चुके हैं।  वहीं गणेश जोशी शहीद सम्मान यात्रा के साथ साथ प्रदेश के सभी

जिलों में बराबर अपनी मौजूदगी बनाए हुए हैं। दो बार से   मसूरी सीट से  लगातार विधायक जोशी का

सैनिकों के बीच शुरू से ही मजबूत पैठ रही है। कैबिनेट मंत्री के तौर पर भी सैनिक कल्याण विभाग

मिलने के बाद वो पूर्व सैनिकों के हित में कई महत्वपूर्ण फैसले कर चुके हैं।

KHABARDAR Express...KHABARDAR Express...

आप के अलावा किसी दल के पास भी नहीं है बड़ा फौजी चेहरा

पूर्व सैनिकों ( Ex Servicemen) को अपने पाले में लाने को मिशन-2022 में जुटी ‘भाजपा’ ( Uttrakahnd BJP Retired  Army Jawans) में गणेश जोशी 9 minister Ganesh Joshi)  जरूरी तो ‘आप’ में कर्नल अजय कोठियाल ( AAP Party  Col. Ajay Kothiyal)  होगा फौजी चेहरा

उत्तराखंड के ज्यादातर परिवारों के लोग फौज से जुड़े हुए हैं ऐसे में सभी राजनीतिक दलों की कोशिश रहती है कि

उनके दल में भी सैनिकों को सम्मान दिया जाए इसीलिए ज्यादातर दलों नें सैनिक चेहरों को अपने दल में अहम

पदों पर रखा है लेकिन पूर्व में  टीपीएस रावत के बाद इस वक्त कांग्रेस के पास कोई बड़ा सैनिक चेहरा नहीं है

जिसके दमपर वो लोगों से वोट मांग सके इसीतरह बीजेपी के पास एक समय में उत्तराखंड ही नहीं बल्कि पूरे

देशभर में बीसी खंड़ूरी के तौर पर एक बड़ा सैनिक और इमानदार चेहरा था और समय उत्तराखंड चुनाव में

खंड़ूरी जरूरी तक का नारा बीजेपी ने दिया था, लेकिन इस बार खंड़ूरी के स्वास्थ्य करणों की वजह से पार्टी से

अलग होने के बाद बीजेपी को भी गणेश जोशी को ही अपना सबसे बड़ा सैनिक चेहरा मानना पड़ रहा है जबकि

हकीकत ये है कि खंडूरी के सीएम रहते वक्त सूबे के ज्यादातर लोगों को ये नहीं पता था कि गणेश जोशी कभी

फौज में भी रहे हैं यानि इस चुनाव में आप पार्टी  के अलावा किसी भी दूसरे दल के पास फिलहाल बड़ा सैनिक

चेहरा नहीं है जिसके बूते वो चुनाव में सैनिक परिवारों के वोट हासिल कर सकें

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *