अब यूपी(Utter Pradesh) में साइबर ठगों( Cyber Criminal) की खैर नहीं

खबरदार ब्यूरो

अब यूपी(Utter Pradesh) में साइबर ठगों( Cyber Criminal) की खैर नहीं

यूपी में बढ़ते साइबर क्राइम पर लगाम लगाने के लिए साइबर सेल में तैनात पुलिस कर्मियों को प्रशिक्षित किया जाएगा। प्रशिक्षण की शुरुआत आगरा में हो चुकी है। इसी तर्ज पर पूरे प्रदेश के सभी 16 जोन में साइबर जागरुकता कैंपेन चलाया जाएगा। डीजीपी मुकुल गोयल ने कहा, मोबाइल और कंप्यूटर के बढ़ते उपयोग के कारण बढ़ रहे साइबर अपराधों से बचने के लिए जनता को जागरूक करने की जरूरत है। इसके लिए रोकथाम, इलाज से बेहतर हैके सिद्धान्त पर काम करना होगा। उन्होंने कहा कि जनता को साइबर अपराधों से बचाव की पर्याप्त जानकारी नहीं है। साइबर क्राइम की कोई सीमा नहीं है। साइबर अपराधी बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक को टारगेट कर रहे हैं।

KHABARDAR Express...

हमारी यूपी पुलिस भी अभी साइबर ट्रेनिंग के दौर में है। इसलिए सबको सावधान रहने की जरूरत है। आगरा जोन के जरिए चलाए गए साइबर जागरुकता कैंपेन की तरह यूपी के दूसरे जोन में भी कैम्पेन चलाए जाएंगे, जिससे पुलिस कर्मियों को साइबर अपराधियों से निपटने की ट्रैनिंग मिल सके।

 

अब यूपी में साइबर अपराधियों की खैर नहीं

यूपी के 16 जोन में चलेगा जागरूकता कैंपेन

 आगरा में 862 को मिली साइबर की ट्रेनिंग

यूपी में हर साल दर्ज हो रहे 11 हजार केस

नेशनल साइबर क्राइम रिपोर्टिंग पोर्टल पर 50 हजार शिकायतें

KHABARDAR Express...

प्रदेश में साल 2019 में 10,341

साल 2020 में 11,772

और साल 2021 में अब तक 5,077 साइबर अपराध की एफआईआर दर्ज हुई हैं

प्रदेश में 2020 में 16 रेंज में बने साइबर थानों में 256 साइबर अपराध की एफआईआर दर्ज की गईं

जिसके आधार पर पुलिस टीम ने 400 साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया

वहीं पीड़ितों के खातों से निकले करीब 6 करोड रुपये की वापसी कराई गई।

KHABARDAR Express...

अब यूपी(Utter Pradesh) में साइबर ठगों( Cyber Criminal) की खैर नहीं, यूपी में बढ़ते साइबर क्राइम पर लगाम लगाने के लिए साइबर सेल में तैनात पुलिस कर्मियों को प्रशिक्षित किया जाएगा। प्रशिक्षण की शुरुआत आगरा में हो चुकी है। इसी तर्ज पर पूरे प्रदेश के सभी 16 जोन में साइबर जागरुकता कैंपेन चलाया जाएगा। डीजीपी मुकुल गोयल ने कहा, मोबाइल और कंप्यूटर के बढ़ते उपयोग के कारण बढ़ रहे साइबर अपराधों से बचने के लिए जनता को जागरूक करने की जरूरत है

आगरा में 862 पुलिस कर्मियों को दिया गया प्रशिक्षण
आगरा जोन में 12 सेशनों में साइबर क्राइम के विभिन्न विषयों (एटीएम क्लोनिंग, फिशिंग, मालवेयर, पोर्नोग्राफी आदि) पर पुलिस कर्मियों को जानकारी दी गई। इसमें 862 पुलिसकर्मियों को प्रशिक्षित किया गया था। अब ऐसे ही प्रदेश के हर जोन में पुलिस कर्मियों को प्रशिक्षित किया जाएगा।

KHABARDAR Express...

अब यूपी(Utter Pradesh) में साइबर ठगों( Cyber Criminal) की खैर नहीं, यूपी में बढ़ते साइबर क्राइम पर लगाम लगाने के लिए साइबर सेल में तैनात पुलिस कर्मियों को प्रशिक्षित किया जाएगा। प्रशिक्षण की शुरुआत आगरा में हो चुकी है। इसी तर्ज पर पूरे प्रदेश के सभी 16 जोन में साइबर जागरुकता कैंपेन चलाया जाएगा। डीजीपी मुकुल गोयल ने कहा, मोबाइल और कंप्यूटर के बढ़ते उपयोग के कारण बढ़ रहे साइबर अपराधों से बचने के लिए जनता को जागरूक करने की जरूरत है

नेशनल साइबर क्राइम रिपोर्टिंग पोर्टल पर 50 हजार शिकायतें
यूपी में हर साल करीब 11 हजार मुकदमें दर्ज हो रहे हैं। वहीं नेशनल साइबर क्राइम रिपोर्टिंग पोर्टल पर 50 हजार शिकायतें दर्ज हो रही हैं। जो हर साल बढ़ रहे हैं। प्रदेश में वर्ष 2019 में 10,341, वर्ष 2020 में 11,772 और वर्ष 2021 में अब तक 5,077 साइबर अपराध की एफआईआर दर्ज हुई हैं।

KHABARDAR Express...

साइबर थानों पर दर्ज हुए 256 एफआईआर
प्रदेश में 2020 में 16 रेंज में बने साइबर थानों में 256 साइबर अपराध की एफआईआर दर्ज की गईं। जिसके आधार पर पुलिस टीम ने 400 साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया। वहीं पीड़ितों के खातों से निकले करीब 6 करोड रुपये की वापसी कराई गई।

 

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *