हाई कोर्ट के आदेश के बाद बैक फुट पर उत्तराखंड सरकार

खबरदार ब्यूरो

उत्तराखंड कैबिनेट के फैसले को नैनीताल हाई कोर्ट ने पलट दिया है, अब कोर्ट के आदेश के बाद उत्तराखंड में चार धाम यात्रा को लेकर राज्य सरकार ने यू-टर्न ले लिया है….. और कोर्ट के सख्त रुख के बाद अब प्रदेश सरकार ने चार धाम यात्रा को अगले आदेश तक के लिए स्थगित कर दिया है.

KHABARDAR Express...

बताया गया है कि ऐसा उत्तराखंड हाईकोर्ट के ऑर्डर को मानते हुए किया गया है.  इससे पहले सोमवार को ही राज्य सरकार ने चार धाम यात्रा को लेकर कोविड गाइडलाइंस जारी की थीं साथ ही कहा था कि 1 जुलाई से हर हाल में यात्रा शुरू होगी. जबकि उत्तराखंड हाईकोर्ट ने यात्रा पर 7 जुलाई तक की रोक लगाई हुई है… उत्तराखंड सरकार ने चार धाम यात्रा के लिए कोविड गाइड लाइंस सुबह जारी कर दी थीं, जिनमें कहा था कि यात्रा का पहला चरण 1 जुलाई से शुरू होगा.और सबसे पहले रुद्रप्रयाग जिले के लिए यात्रा को खोला जाना था और उसके बाद बाकी के यात्रा से जुड़े जिलों के लिए यात्रा खोली जानी थी

KHABARDAR Express...

जिसकी तारीख 11 जुलाई  रखी गई थी… ये यात्रा का दूसरा चरण होना था.सरकार के आदेश में कहा गया था कि यात्रा के दौरान यात्रियों के पास कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट भी जरूरी की गई थी. राज्य सरकार ने सीमित लोगों के साथ यात्रा की शुरुआत की बात कही थी. लेकिन अब यात्रा को अगले आदेश तक के लिए स्थगित कर दिया गया है. इससे पहले सोमवार को उत्तराखंड हाईकोर्ट ने चार धाम यात्रा के मामले पर सुनवाई की थी.

KHABARDAR Express...

दरअसल, राज्य सरकार ने सीमित लोगों के साथ चार धाम यात्रा की शुरुआत करने की बात कही थी. लेकिन कोर्ट ने इस यात्रा पर 7 जुलाई तक रोक लगा दी थी. उस दिन मामले पर फिर सुनवाई होनी थी. हाईकोर्ट ने सरकार से 7 जुलाई को दोबारा से शपथपत्र दाखिल करने को कहा है. कोर्ट ने सरकार से चार धामों की लाइव स्ट्रीमिंग करने को कहा है, जिससे श्रद्धालु घर से ही उनके दर्शन कर सकें. और कोरोना के कहर से भी बच सकें

KHABARDAR Express...

कोर्ट की सुनवाई के बाद उत्तराखंड सरकार के प्रवक्ता सुबोध उनियाल ने कहा कि वो पहले हाईकोर्ट का ऑर्डर पढ़ेंगे, फिर अगर उन्हें लगेगा तो सुप्रीम कोर्ट का भी रुख किया जाएगा.आपको बता दें कि उत्तराखंड के चारों धामों के कपाट पिछले महीने मई में खुल चुके हैं. लेकिन कोरोना संक्रमण की वजह से श्रद्धालुओं को अभी तक चारों धामों में दर्शन की अनुमति नहीं दी गई है …

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *