कोरोना महामारी के बावजूद, देश ने एक्सपोर्ट ग्रोथ में लगाई लम्बी छलांग

खबरदार ब्यूरो

देश की इकोनॉमी कोरोना की दूसरी लहर के भीषण प्रभाव के बावजूद सही रास्ते पर आगे बढ़ रही है. मौजूदा वित्त वर्ष की पहली तिमाही में देश ने अब तक की सबसे अधिक एक्सपोर्ट ग्रोथ हासिल की है. वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने ये जानकारी दी।

2020-21 की अंतिम तिमाही में 90 अरब डॉलर का रहा FDI

देश का अब तक का सबसे अधिक FDI

पिछले महीने देश के एक्सपोर्ट में 47% की बढ़त

इंजीनियरिंग, ऑयल और समुद्री उत्पादों में बेहतर प्रदर्शन

2022-23 के लिए 500 अरब डॉलर निर्यात का लक्ष्य

वर्ल्ड ट्रेड आर्गेनाईजेशन के आंकड़ों से खुलासा

KHABARDAR Express...

Corona की second wave की रफ्तार अब पहले से कम है. इस बीच देश की economy को लेकर केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने अपडेट जानकारी दी. Piyush Goyal ने बताया कि भारत में निवेश आ रहे हैं वो लगातार बढ़ते जा रहे हैं. हमारी निर्यात में बड़े पैमाने पर वृद्धि हो रही है. देश में विकास की गति तेज हुई है। भारत के भविष्य की ये एक छोटी झलक है. पीयूष गोयल ने कहा कि April-June quarter में देश की इकोनॉमी बढ़ने के साथ-साथ exports की भी वृद्धि हुई है।

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि ‘भारत की अर्थव्यवस्था बढ़ रही है और हमारा निर्यात भी बढ़ रहा है। कोविड-19 की दूसरी लहर के बावजूद, भारत ने अप्रैल-जून 2021 की पहली तिमाही में अब तक का सबसे अधिक निर्यात दर्ज किया।’ इंजीनियरिंग, चावल, ऑयल मील और समुद्री उत्पादों समेत विभिन्न क्षेत्रों के बेहतर प्रदर्शन से देश का निर्यात इस साल जून तिमाही के दौरान निर्यात बढ़कर 95 अरब अमेरिकी डॉलर हो गया।

KHABARDAR Express...

अप्रैल-जून 2018-19 के दौरान व्यापारिक निर्यात 82 अरब डॉलर और 2020-21 की अंतिम तिमाही के दौरान 90 अरब डॉलर था। 2020-21 की जून तिमाही में निर्यात 51 अरब डॉलर था। जबकि इसी वित्त वर्ष की अंतिम तिमाही में निर्यात 90 अरब डॉलर रहा था। पिछले महीने देश का निर्यात 47 प्रतिशत उछलकर 32 अरब डॉलर रहा था। गोयल ने कहा, ‘इस साल अप्रैल-जून तिमाही में देश का वस्तुओं निर्यात किसी तिमाही में अबतक का सर्वाधिक है।’ उन्होंने कहा कि मंत्रालय चालू वित्त वर्ष में 400 अरब डॉलर का निर्यात लक्ष्य हासिल करने के लिए सभी संबद्ध पक्षों के साथ मिलकर काम करेगा।

KHABARDAR Express...

Ministry of Commerce में ओएसडी बीवीआर सुब्रह्मण्यम ने कहा कि, ‘हम 400 अरब डॉलर के निर्यात पर नहीं रुकेंगे। 2022-23 के लिए 500 अरब डॉलर निर्यात का लक्ष्य रखा गया है। उसके बाद पांच वर्ष के अंदर 10 खरब डॉलर के व्यापारिक निर्यात का लक्ष्य प्राप्त करेंगे।’ महामारी के बावजूद, 2020-21 में 81.72 अरब डॉलर का एफडीआई प्रवाह रहा, जो अब तक का सबसे अधिक है। अप्रैल 2021 में एफडीआई प्रवाह 6.24 अरब डॉलर रहा, जो अप्रैल 2020 की तुलना में 38 फीसदी अधिक है।

KHABARDAR Express...

सरकार का कहना है कि अप्रैल में देश का एक्सपोर्ट ग्रोथ कई बड़ी इकोनॉमी से अधिक है। वर्ल्ड ट्रेड आर्गेनाईजेशन के आंकड़ों के हिसाब से अप्रैल 2020 के मुकाबले अप्रैल 2021 में यूरोपीय संघ की एक्सपोर्ट ग्रोथ 68%, जापान की 36%, दक्षिण कोरिया की 41%, ब्रिटेन की 32% और अमेरिका की 53% है।

बढ़ी भारतीय मसालों की धाक

मसालों की कैटेगरी में भी देश की धाक बढ़ी है. 2021-22 की पहली तिमाही में इस कैटेगरी में 2019-20 और 2018-20 की इसी तिमाही के बदले डब1ल डिजिट ग्रोथ हासिल की है.

50,000 स्टार्टअप की पहचान

KHABARDAR Express...

देश में स्टार्टअप कल्चर को भी बढ़ावा मिला है. Department for Promotion of Industry and Internal Trade ने अब तक 50,000 से ज्यादा स्टार्टअप को चिन्हित किया है।

इसी के साथ पीयूष गोयल ने करीब 2.7 लाख करोड़ रुपये के अनुमानित निवेश वाली 20 महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचा परियोजनाओं की समीक्षा की। एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि मंत्री ने परियोजनाओं को समय पर चालू करने के लिए लंबित मुद्दों का जल्द समाधान सुनिश्चित करने के निर्देश दिए और समयसीमा तय की।

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *